Saturday, 13 January 2018

आगमन से पूर्व ही शुरु हो गया था मुख्यमंत्री का विरोध, महादलितों को जबरदस्ती नहीं आयी रास ..

- एक ही वार्ड में कहीं चकाचक तो कहीं घुटने भर पानी, बना विरोध का कारण.
- मुख्यमंत्री से मिलकर बताना चाह रहे थे धरातल की हकीकत लेकिन हुई फ़जीहत. 

बक्सर: आगमन से पूर्व मुख्यमंत्री का विरोध महादलित पुरुषों एवं महिलाओं ने शुरू कर दिया था. उनका यह कहना था कि जिस वार्ड में मुख्यमंत्री निरीक्षण करने आ रहे हैं उसी वार्ड के कई इलाकों में घुटने तक पानी लगा रहता है. जहां सात निश्चय योजना का लाभ ग्रामीणों को नहीं मिला है वहीं मुख्यमंत्री आकर क्या साबित करना चाहते हैं? ग्रामीण महिला एवं पुरुषों का सिर्फ यह कहना था कि अपना दर्द व मुख्यमंत्री से बयान करना चाहते हैं, लेकिन जब प्रशासन ने उनकी बात ना मानी तो उन्होंने उग्र रूप अख्तियार कर लिया और जमकर पत्थर बरसाए. हालांकि, इस घटना के बाद मुख्यमंत्री ने मामले की जांच करने के आदेश दे दिए हैं और पटना से आयुक्त आनंद किशोर एवं आईजी नैयर हसनैन ख़ान के नेतृत्व में एक जांच दल घटना की बारीकी से जांच करने के लिए बक्सर के नंदन गांव पहुंच गया है. इस दौरान ग्रामीणों से लेकर अधिकारियों तक के बयान दर्ज कर मामले की जांच की जाएगी.


style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-5656072117057856"
data-ad-slot="8835885279">



SHARE YOUR ARTICLE

If you have any article, photograph, video etc which you want to share with us through our blog. You can send email us at talkduo@gmail.com or click here

No comments:

Post a Comment